SPL Partner Program से जुड़कर घर बैठे पैसे कमायें |

If you like this post, Please Share it.

Welcome To SPL Partner Program

सबसे पहले आपको बता दें, ये एसपीएल पार्टनर प्रोग्राम समाज सेवी संस्था ” स्पेशल चाइल्ड वेलफेयर आर्गेनाईजेशन ” का ही एक प्रोग्राम है | अब तक स्पेशल चाइल्ड वेलफेयर आर्गेनाईजेशन में 80 लाख लोगों से भी अधिक लोग संस्था के साथ जुड़कर अनेक लाभकारी योजनाओं का फायदा ले रहे है और घर बैठे संस्था के ऑनलाइन प्लेटफार्म के माध्यम से पैसे कमा रहे है | ये संस्था सन 2015 से लोगों की सेवा कर रही है और आज ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीको से संस्था में काम करके लोग अच्छी इनकम कर रहे है |

एसपीएल पार्टनर प्रोग्राम क्या है ?

SPL Partner Program स्पेशल चाइल्ड वेलफेयर आर्गेनाइजेशन द्वारा संचालित एक जन कल्याण की योजना है, जो हर व्यक्ति को घर बैठे संस्था द्वारा हर महीने किये जा रहे काम से होने वाले प्रॉफिट में हिस्सा प्रदान करती है | जिससे हर व्यक्ति को हर महीने और हर दिन इनकम होती है जिससे हर व्यक्ति अपने जीवन का गुजरा आराम से कर लेता है | संस्था द्वारा संचालित इस प्रोग्राम में कोई भी व्यक्ति संस्था का पार्टनर बन सकता है और संस्था में अपना योगदान देकर अपनी इनकम को और भी अधिक हर महीने बढ़ा सकता है |

SPL पार्टनर प्रोग्राम में कैसे जुड़ें ?

SPL Partner Program में शामिल होने के लिए आपको संस्था के पार्टनर प्रोग्राम में अपना रजिस्ट्रेशन करना होता है | जिसका रजिस्ट्रेशन लिंक इसी पेज पर नीचे दिया हुआ है | जहाँ पर आप अपना नया रजिस्ट्रेशन भी कर सकते है और अगर आपका पहले से रजिस्ट्रेशन है तो आप लॉग इन लिंक पर क्लिक करके अपने पार्टनर अकाउंट को लॉग इन भी कर सकते है |

SPL पार्टनर अकाउंट को एक्टिवेट कैसे करें ?

SPL Partner अकाउंट को एक्टिवेट करने के लिए आपको संस्था के पहले से पार्टनर व्यक्ति से अपना अकाउंट एक्टिवेट करवाना पड़ेगा | जो व्यक्ति पहले से संस्था का पार्टनर हैं केबल वही व्यक्ति आपके पार्टनर अकाउंट को एक्टिवेट कर सकते है | जब आपका अकाउंट एक्टिवेट हो जायेगा तो आप भी संस्था के पार्टनर बन जायेंगे और फिर आप भी किसी भी व्यक्ति के पार्टनर अकाउंट को एक्टिवेट कर सकते है | जब भी आप किसी से अपना पार्टनर अकाउंट एक्टिवेट करवाते है तो आपको 100 रूपए उस व्यक्ति को देने होंगे जिसने भी आपका पार्टनर अकाउंट एक्टिवेट किया है | उसी प्रकार जब आप किसी का भी पार्टनर अकाउंट एक्टिवेट करते है तो आपको भी पहले 100 रूपए उस व्यक्ति से लेने है, जिसका पार्टनर अकाउंट आप एक्टिवेट करते है |

SPL Partner Program में 100 रूपए फीस किसको मिलती है ?

संस्था की तरफ से पार्टनर प्रोग्राम बिलकुल फ्री है | संस्था किसी से भी पार्टनर प्रोग्राम में शामिल होने के लिए कोई भी फीस नहीं लेती है | बल्कि जब आप किसी को संस्था का पार्टनर बनाते है तो आपको संस्था की तरफ से रोजाना पैसा तो मिलता ही है, साथ में आप किसी को भी संस्था का पार्टनर बनाकर उससे 100 रूपए लेकर अपनी जेब में रख सकते है | जिससे आपकी इनकम और अधिक होती है और जिस व्यक्ति से आपने 100 रूपए लेकर संस्था का पार्टनर बनाया है, उसको भी याद रहता है की अब में संस्था का पार्टनर हूँ और अब मुझे हर दिन संस्था से पैसे भी मिलेंगे | लेकिन यदि आप फ्री में लोगों के पार्टनर अकाउंट को एक्टिव करते रहेंगे तो फिर आपका समय और संस्था द्वारा जो पैसे आपको दिए जाते है, जिनसे आप किसी का पार्टनर अकाउंट एक्टिवेट करते है वो दोनों ही बेकार चले जायेंगे | क्योंकि जब तक किसी व्यक्ति की जेब से पैसे खर्च नहीं होते है तब तक उसको याद नहीं रहता है |

क्या एसपीएल पार्टनर प्रोग्राम में टीम बनानी पड़ती है या किसी को जोड़ना पड़ता है ?

एसपीएल पार्टनर प्रोग्राम में आपको किसी भी प्रकार की कोई टीम नहीं बनानी है और ना ही किसी को अपनी स्पोसर आई डी से जोड़ना है | इसमें आपको ऐसा कोई काम नहीं करना है जो आप पहले से किसी कंपनी में करते थे या किसी ने आपको बताया था | इसमें केबल आपको अपना पार्टनर अकाउंट एक्टिव रखना है, और उसी से आपको हर दिन संस्था की तरफ से पैसे मिलते रहेंगे | यदि कोई व्यक्ति आपसे अपना पार्टनर अकाउंट एक्टिव करवाता है तो आपको उससे 100 रूपए लेकर अपनी जेब में रखने है और अपने वॉलेट से उसका अकाउंट एक्टिव कर देना है | आपको ऊपर किसी को भी यानी संस्था को कोई पैसे देने नहीं है | संस्था कोई पैसे नहीं लेती है | बल्कि संस्था हर दिन अपने पार्टनर्स को पैसे देती है |

एसपीएल पार्टनर प्रोग्राम में कितना पैसा मिलता है ?

जो लोग एसपीएल पार्टनर प्रोग्राम में शामिल है और उनका पार्टनर अकाउंट एक्टिव है, उन सभी लोगों को रोजाना संस्था की तरफ से पैसे मिलते है | आपको कितना पैसा मिलेगा ये इस बात पर निर्भर करता है की आप संस्था के कितने पुराने पार्टनर है | आप जितने अधिक पुराने होते जायेंगे आपकी रोजाना की इनकम भी उतनी ही अधिक होती जाएगी | जैसे मानकर चलिए आपने 1 तारिख को रजिस्ट्रेशन किया है और अपने पार्टनर अकाउंट को 1 तारिख को ही एक्टिवेट कर लिया है और दूसरा आपके किसी दोस्त ने भी 1 तारिख को भी अपना रजिस्ट्रेशन किया है, लेकिन उसने अपना अकाउंट आपसे दो दिन बाद यानी 3 तारिख को एक्टिवेट किया है | इसका मतलब ये हुआ कि आप अपने दोस्त से 2 दिन पुराने पार्टनर है, इसलिए आपको हर दिन ज्यादा पैसे मिलेंगे, जबकि आपके दोस्त को आपसे कम ही पैसे मिलेंगे | क्योंक आप ज्यादा पुराने पार्टनर हो | संस्था चाहती है की हर व्यक्ति को लगभग 500 रूपए रोज भी मिलता रहता है, तब भी वो अपने जीवन को अच्छे से जी सकता है | पार्टनरशिप प्रोग्राम में आपको कितना पैसा हर दिन मिलेगा ये संस्था की हर दिन की इनकम पर निर्भर करता है | संस्था अपने 24 YouTube चैनल और 12 वेबसाइट से हर दिन जो इनकम करती है | उसमें से संस्था के खर्चे काट कर बचे हुए पैसे को संस्था अपने पार्टनर्स में बाँट देती है | तो आपकी रोजाना की इनकम संस्था की रोजाना की इनकम पर निर्भर करती है और इस बात पर की आप कितने पुराने पार्टनर हो | फिर भी संस्था अपने सभी पार्टनर्स को लगभग 500 रूपए रोज देने की कोशिश करेगी, जिससे आपका रोजाना का खर्चा आराम से चल सके |

एसपीएल पार्टनर अकाउंट को रोजाना लॉग इन करना जरूरी क्यों है ?

अगर आपको संस्था से रोजाना पैसे लेने है तो फिर आपको अपना पार्टनर अकाउंट रोजाना एक्टिव करना है और अपनी प्रेजेंट लगानी है और यदि आप चाहते है की मुझे ज्यादा पैसे की जरूरत नहीं है तो आप महीने में एक दिन ही अपना अकाउंट लॉग इन करें, जिससे आपको केबल एक दिन ही पैसे मिलेंगे | इसका मतलब ये है की जिन लोगों को रोजाना पैसे चाहिए वो अपना अकाउंट रोजाना लॉग इन करें | जिस दिन आप अपना अकाउंट लॉग इन नहीं करेंगे उस दिन आपको संस्था की तरफ से कोई पैसे नहीं मिलेंगे | इसलिए हर पार्टनर को हर दिन अपना पार्टनर अकाउंट लॉग इन करना है और अपने रोजाना के काम पूरे करने है, जिससे आपको रोजाना पैसे मिलते रहें और पूरे महीने में आपको अधिक इनकम हो |

Click Here For WhatsApp For Any Problem on +918010522247

Click Here For New Registration

Click Here For Login

अगर आपको किसी भी प्रकार की जानकारी लेनी है तो आप "SPL LIVE LEARNING" YouTube चैनल की विडियो देखकर ले सकते है ||

इस संस्था से जुड़ने के आपको अनेक फायदे मिलते है, उन सभी की जानकारी के लिए आप इस वेबसाइट पर लिखी हुई अन्य पोस्ट को पढ़िए या फिर आप संस्था के चैनल "SPL LIVE LEARNING" की विडियो देखिये |

अगर आपने अभी तक आपना रजिस्ट्रेशन नहीं किया है तो नीचे दिए रजिस्टर बटन को क्लिक करके अपना तुरंत रजिस्ट्रेशन कर लीजिये और अपनी आई डी को लॉग इन करके अपना रजिस्ट्रेशन पूरा कीजिये |

SPLCASH Registration

SPL STUDY Registration

SPL Partner Registration

SPLCASH INCOME PLAN

SPL STUDY INCOME PLAN

नीचे दी हुई पोस्ट को भी पढ़िए 

रोजाना 2 घंटे सीखें, 2 मिनट काम करें और 2 हजार कमाएं।

SPL STUDY में FREE REGISTRATION करवाकर ज्यादा पैसे कमाएं |

आपके सुझाव आपकी पहचान बना सकते हैं।

एक लाख रूपए महिना कैसे कमायें ?

खाली समय में पैसा कमाओं | EARN MONEY IN FREE TIME.

फ्री में संस्था के प्लेटफार्म से 1 लाख रुपए महीना कमायें | 

बेरोजगारी कैसे दूर करें ?

 SPL के YouTube चैनल्स के लिए VIDEO का पूरा TITLE सही FORMAT में कैसे लिखें? 

SPL STUDY में रिपीट INCOME कैसे मिलती है |

विडियो देखिये :-

SPL की वेबसाइट collegestar.in पर ब्लॉग कैसे लिखें |

मोबाइल पर विडियो देखने का 2 लाख रुपये महिना तक कैसे मिलेगा ।

SPL STUDY से ज्यादा पैसा कैसे कमाये, आपके सभी सवालों के जबाब ।

SPLSTUDY.COM में वीडियो देखने और ब्लॉग पढ़ने की अपनी इनकम कैसे पता करें।।

मेहनत करोगे तो गरीब ही रहोगे ! अब ऐसे कमाओं खूब पैसा !

मोबाइल से करो ये काम मिलेगा 500 रुपये घंटा ! 

आपके पास मोबाइल है तो मिलेगा 30 हजार रुपये महिना

.

Comments (5)

how much does clomid cost J Clin Pathol 2005; 58 2 172 177

lasix administration Transcription factor signal transducer and activator of transcription 6 STAT6 is an inhibitory factor for adult myogenesis

Really post is nice.

propecia results photos Danish Breast Cancer Cooperative Group DBCG History, organization, and status of scientific achievements at 30 year anniversary

Review levels of scientific rigor evidence provided by different clinical study designs Describe how optimizing ART stimulation can yield better clinical outcomes Summarize various agents used in ART stimulation protocols Compare mechanisms of activity between GnRH agonists and antagonists Discuss role of other adjuvant stimulation agents i cialis


.

Leave Comments